Tuesday, 31 May 2016

Commodity Market Tips

शेयर मार्केट से सम्बंधित किसी भी जानकारी के लिए आप हमें मिस्ड कॉल करें इस नंबर पर
+91 7879-88-11-22
हमारी वेबसाइट पे जाये यहाँ से
कमोडिटी बाजार: आज कहां लगाएं दांव 
  • कल की गिरावट के बाद आज सोने में हल्की रिकवरी 
  • इस महीने के दौरान सोने का दाम करीब 6.5 फीसदी गिर गया है 
  • अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने के अनुमान से डॉलर मजबूत 
  • आज अमेरिका में कंज्यूमर कॉन्फिडेंस के आंकड़े आएंगे 
  • इस हफ्ते अमेरिका के नॉन फार्म पेरोल पर भी बाजार की नजर बनी हुई है 
  • कच्चे तेल की चाल छोटे दायरे में सिमट गई 
  • बेस मेटल में दबाव बढ़ गया है 
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार में कॉपर का दाम करीब 0.5 फीसदी गिर गया है 
  • इस महीने के दौरान कॉपर में करीब 7 फीसदी की गिरावट 
  • एमसीएक्स पर सोना सपाट होकर 28625 रुपये पर 
  • चांदी 0.3 फीसदी बढ़कर 38700 रुपये पर नजर आ रही है 
  • एमसीएक्स पर कच्चा तेल 1.5 फीसदी फिसलकर 3340 रुपये पर 
  • नैचुरल गैस 0.5 फीसदी की बढ़त के साथ 146.7 रुपये पर 
  • बेस मेटल्स में आज कॉपर और निकेल में तेजी 
  • एमसीएक्स पर एल्युमिनियम 0.2 फीसदी की गिरावट के साथ 104.4 रुपये पर 
  • कॉपर 0.4 फीसदी की तेजी के साथ 313.75 रुपये पर 
  • लेड 0.4 फीसदी गिरकर 114.1 रुपये पर 
  • जिंक सपाट नजर आ रहा है, जबकि निकेल में 1 फीसदी की मजबूती के साथ 573.4 रुपये पर 
  • एनसीडीईएक्स पर सोयाबीन 0.15 फीसदी बढ़कर 3880 रुपये पर 
  • क्रूड पाम तेल की चाल सुस्त नजर आ रही है और ये 531.6 रुपये के आसपास है 
  • सोने की शुरुआती गिरावट हुई कम, चांदी 1% टूटी 
  • केरल में मॉनसून आने के लिए माहौल बना 
  • अब विदेश में पैदा होगी भारत की दाल! 

Monday, 30 May 2016

कमोडिटी बाजारः सोना 2000 रु सस्ता, क्या करें

कमोडिटी बाजार: आज कहां लगाएं दांव 
हमारी वेबसाइट पे जाये यहाँ से 
  
  • घरेलू बाजार में सोना इस महीने करीब 2000 रुपये गिर चुका है
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार में आज सोना 1200 डॉलर के बेहद करीब आ गया 
  • पिछले हफ्ते फेड चेयरमैन ने अमेरिका में जल्द ब्याज दरें बढ़ने का संकेत दिया था 
  • घरेलू बाजार में चांदी 1 फीसदी से ज्यादा टूट गई है 
  • ग्लोबल मार्केट में चांदी 16 डॉलर के भी नीचे 
  • एमसीएक्स पर सोना 0.5 फीसदी की कमजोरी के साथ 28450 रुपये के आसपास 
  • चांदी 1.2 फीसदी टूटकर 38420 रुपये पर 
  • एमसीएक्स पर कच्चा तेल 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 3320 रुपये पर 
  • नैचुरल गैस में गिरावट आई है और ये 0.5 फीसदी से ज्यादा गिरकर 146.1 रुपये पर 
  • कॉपर में दबाव है जबकि एल्युमीनियम मजबूत है 
  • एमसीएक्स पर एल्युमिनियम 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 103.9 रुपये पर 
  • कॉपर 0.3 फीसदी गिरकर 313.3 रुपये पर 
  • लेड 0.3 फीसदी की बढ़त के साथ 114 रुपये पर 
  • जिंक 0.15 फीसदी बढ़कर 128 रुपये पर 
  • निकेल में 0.1 फीसदी की मामूली बढ़त दिख रही 
  • गेहूं में आज तेजी आई 
  • एनसीडीईएक्स पर गेहूं का जून वायदा 1 फीसदी से ज्यादा बढ़कर 1685 रुपये पर 
  • चीनी में गिरावट का रुख है 
  • राज्यों में स्टॉक लिमिट लगने के बाद चीनी में बिकवाली हावी 
  • एनसीडीईएक्स पर चीनी 0.5 फीसदी से ज्यादा गिरकर 3520 रुपये पर

Friday, 27 May 2016

Commodity Tips Provider

कमोडिटी बाजार: आज कहां लगाएं दांव 
हमारी वेबसाइट पे जाये यहाँ से  
  • कल की जोरदार तेजी के बाद कच्चे तेल में गिरावट शुरू 
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड का दाम 50 डॉलर के नीचे 
  • सोने में भी बिकवाली हावी है और कॉमैक्स पर सोना 1220 डॉलर के भी नीचे 
  • आज बाजार की नजर जेनेट येलेन के भाषण पर 
  • अमेरिका में ब्याज दरों को लेकर आज कुछ संकेत मिल सकता है 
  • पिछले 9 महीने में सोने में सबसे बड़ी साप्ताहिक गिरावट देखी जा रही 
  • चीन में अप्रैल के दौरान सोने का इंपोर्ट करीब 4 फीसदी गिर गया है 
  • ऊंची कीमतों पर मांग में कमी और डॉलर में रिकवरी से सोने की कीमतों पर लगातार दबाव 
  • चांदी में भी बिकवाली हावी 
  • लंदन मेटल एक्सचेंज पर कॉपर भी सुस्त 
  • इस हफ्ते के दौरान कॉपर में तेजी देखने को मिली 
  • आज डॉलर के मुकाबले रुपये में मजबूती का रुख 
  • 1 डॉलर की कीमत 67.10 रुपये के नीचे आ गई 
  • एमसीएक्स पर कच्चा तेल 0.7 फीसदी फिसलकर 3300 रुपये पर 
  • नैचुरल गैस की चाल सुस्त है और ये 144.7 रुपये पर 
  • एमसीएक्स पर सोना 0.1 फीसदी की मामूली कमजोरी के साथ 28700 रुपये पर 
  • चांदी करीब 0.5 फीसदी टूटकर 38900 रुपये पर 
  • बेस मेटल्स में आज तेजी देखने को मिल रही है 
  • एमसीएक्स पर एल्युमिनियम करीब 0.5 फीसदी की बढ़त के साथ 104.15 रुपये पर 
  • कॉपर भी करीब 0.5 फीसदी की तेजी के साथ 314.4 रुपये पर 
  • लेड 0.5 फीसदी की मजबूती के साथ 112.8 रुपये पर 
  • जिंक 0.5 फीसदी से ज्यादा उछलकर 126.5 रुपये पर 
  • निकेल 1 फीसदी की मजबूती के साथ 564.1 रुपये पर 
  • एनसीडीईएक्स पर हल्दी 0.25 फीसदी गिरकर 8080 रुपये पर 
  • जीरा सपाट होकर 16125 रुपये के आसपास

Thursday, 19 May 2016

बेस मेटल्स, कच्चे तेल, सोना चांदी की ताजा जानकारी

बेस मेटल्स में बिकवाली हावी है। कॉपर समेत सभी मेटल्स में दबाव नजर आ रहे हैं। लंदन मेटल एक्सचेंज पर कॉपर 3 महीने के निचले स्तर पर आया। दरअसल मजबूत डॉलर ने मेटल्स दबाव बनाने का काम किया है। एमसीएक्स पर एल्युमिनियम 0.7 फीसदी की कमजोरी के साथ 103.6 रुपये पर कारोबार कर रहा है। कॉपर 1 फीसदी तक गिरकर 308 रुपये के नीचे कारोबार कर रहा है। निकेल 0.5 फीसदी से ज्यादा की कमजोरी के साथ 577.6 रुपये पर आ गया है। लेड में 0.25 फीसदी की गिरावट आई है जबकि जिंक 0.8 फीसदी गिर गया है।

कमोडिटी बाजार में केसा रहेगा निवेश जाने यहाँ .... www.marketmagnify.com

कच्चे तेल में भी भारी गिरावट आई है। घरेलू बाजार में एमसीएक्स पर क्रूड का दाम करीब 2.5 फीसदी लुढ़ककर 3240 रुपये पर आ गया है। दरअसल अमेरिका में भंडार बढ़ने से अंतरराष्ट्रीय बाजार में गिरावट आई है और इसी का असर घरेलू बाजार पर भी पड़ा है। अमेरिकी एनर्जी डिपार्टमेंट के मुताबिक अमेरिका में क्रूड का भंडार करीब 13 लाख बैरल बढ़ गया है। वहीं ईरान से लगातार सप्लाई बढ़ रही है। डॉलर में रिकवरी से भी कच्चे तेल की कीमतों पर दोहरा दबाव पड़ा है।

डॉलर में रिकवरी से सोने का दाम भी गिर गया है। घरेलू बाजार में सोना 375 रुपये टूट चुका है, जबकि चांदी 850 रुपये का गोता लगा चुकी है। एमसीएक्स पर सोना 1.25 फीसदी की गिरावट के साथ 29680 रुपये पर कारोबार कर रहा है। वहीं चांदी 2 फीसदी से ज्यादा गिरकर 40200 रुपये के नीचे आ गई है।

कमोडिटीज की निवेश सलाह

सोना एमसीएक्स (जून वायदा) : बेचें - 29850, स्टॉपलॉस - 30000 और लक्ष्य - 29550

कच्चा तेल एमसीएक्स (जून वायदा) : बेचें - 3260, स्टॉपलॉस - 3340 और लक्ष्य - 3100

कॉपर एमसीएक्स (जून वायदा) : बेचें - 312, स्टॉपलॉस - 316 और लक्ष्य - 304


Wednesday, 18 May 2016

सोने ने किया कमाल निवेशक अब होंगे मालामाल

इस साल सोने ने पूरे बाजार को चौंका दिया है। जनवरी से अब तक इसकी कीमतों में करीब 20 फीसदी की तेजी आ चुकी है। दुनिया की कमोबेश सभी एजेंसिया जब सोने में गिरावट के कयास लगा रही थीं, सोना एकाएक चमकने लगा। आखिर क्यों चमका सोना। क्या ग्लोबल इकोनॉमी को महंगाई का डर सता रहा है या मंदी का जोखिम फिर उभर रहा है। क्योंकि बात चाहे यूएस इकोनॉमी ही हो या भारतीय रुपये की चाल की, हालात जस की तस है। तो क्या फिर चौंकाएगा सोना, जानने के लिए लेकर आए हैं हम ये खास पेशकश।

अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये ...www.marketmagnify.com

इस साल निफ्टी ने 2 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है, लेकिन सोने ने 20 फीसदी का बेहतरीन रिटर्न दिया है। दरअसल डॉलर 1.5 साल के निचले स्तर पर तक गिर गया है, ऐसे में सोना 1.5 साल के ऊपरी स्तर तक चढ़ गया। ग्लोबल इकोनॉमी में कमजोरी के संकेत से भी सोने की चमक बढ़ी है। वहीं यूएस फेड का ब्याज दरों पर धीमा रुख भी सोने में तेजी की एक वजह है। गोल्ड ईटीएफ में निवेशकों का रुझान बढ़ा है और गोल्ड ईटीएफ की होल्डिंग 3 साल की ऊंचाई पर पहुंच गई है। कहा जा रहा है कि आगे सोने में और तेजी देखने को मिल सकती है। सोने में और तेजी आने के पीछे कारण बताये जा रहे हैं कि यूएस इकोनॉमी की तस्वीर साफ नहीं है। डॉलर में भारी उतार-चढ़ाव हो रहा है और रुपये में भी रिकवरी के संकेत नहीं हैं। ग्लोबल इकोनॉमी में चीन की चिंता हावी है। वहीं यूरोपियन यूनियन में ब्रिटेन के भविष्य को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं जिससे सोने को मजबूती मिल सकती है।

दूसरी ओर, कच्चा तेल जो सोने को भी मात दे रहा है। कच्चे तेल की शुरुआती तेजी गायब हो गई है। ब्रेंट क्रूड 50 डॉलर के पास जाने के बाद दबाव में आ गया है। दरअसल नाइजीरिया, वेनेजुएला और लीबिया में तनाव और आगे चलकर ग्लोबल भंडार घटने के अनुमान से कच्चे तेल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। इस साल के दौरान इसमें करीब 80 फीसदी की तेजी आ चुकी है। ऐसे में गोल्डमैन सैक्स ने क्रूड पर अपना नजरिया अब बदल लिया है, इस साल के शुरुआत में इसने कच्चे तेल को 20 डॉलर तक गिरने का लक्ष्य दिया था, लेकिन कीमतें 27 डॉलर का स्तर छूने के बाद से लगातार बढ़ रही हैं।

Tuesday, 17 May 2016

Sensex, Nifty up 6-9% in 2 yrs but midcaps soar 44% it's Modi Magic

There would have been very few takers if one were to be told that the market won't rise even 10 percent in two years from the day NDA was elected to power. But as heartbreaking as it could be, promise of acche din fizzled out soon atleast for the market from May 16, 2014 to May 16, 2016. Results of general elections were declared on May 16, when BJP-led National Democratic Alliance (NDA) won with a majority to form the new government.

Get Best Investment Plans at !!! www.marketmagnify.com

In the one year-period, from May 16 2014 the Sensex gained 15 percent while the Nifty climbed 16 percent. However, the indices fell off the cliff soon as Modi's magic began to dwindle  after a year BJP formed government with Narendra Modi as the Prime Minister. From May 18, 2015 (May 16 was a Saturday) to May 16, 2016 the market gave negative returns to investors. In that one-year period, Sensex lost 7 percent while Nifty fell 6 percent.

But, had one got little more patience and held on to stocks returns were healthy in the year after (of course not so good as in year-ago). From May 16, 2014 to May 16, 2016 the Sensex jumped 6 percent while the Nifty gained 9 percent at closing.

However, things are not so bad as it seems to be compared to global peers especially in the emerging market basket. In the emerging market space, while MSCI EM was down 22 percent, India was the third best performing market, after China and Japan in the period.

Monday, 16 May 2016

सोने में आया उछाल कच्चे तेल में भी तेजी देखे यहाँ

कच्चे तेल का दाम इस साल के रिकॉर्ड स्तर पर चला गया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट का दाम 48 डॉलर के पार चला गया है। करीब 1.5 की बढ़त के साथ कारोबार हो रहा है। दरअसल नाइजीरिया और वेनेजुएला में तनाव बढ़ने से कच्चे तेल की कीमतों को सपोर्ट मिला है। माना ये जा रहा है कि ऐसे माहौल में आगे क्रूड की सप्लाई पर असर पड़ सकता है। इस बीच अमेरिका में कच्चे तेल के उत्पादन में भी मी आई है। हालांकि डॉलर में मजबूती और कनाडा में उत्पादन सुधरने की भी संभावना है।

अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये ...www.marketmagnify.com

सोना फिर से चमक गया है अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसका दाम 1280 डॉलर के स्तर पर चला गया है। इसके साथ ही चांदी में भी 1 फीसदी से ज्यादा की तेजी आई है। लेकिन बेस मेटल्स में दबाव कायम है। लंदन मेटल एक्सचेंज पर कॉपर पिछले 2.5 महीने का निचला स्तर छू चुका है। आज डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी है।

 फिलहाल एमसीएक्स पर सोना करीब 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 30100 रुपये पर कारोबार कर रहा है। चांदी में जोरदार तेजी आई है और ये 41350 रुपये पर कारोबार कर रही है। वहीं एमसीएक्स पर कच्चा तेल 1 फीसदी से ज्यादा उछलकर 3130 रुपये पर कारोबार कर रहा है। हालांकि नैचुरल गैस 1.5 फीसदी गिरकर 140 रुपये के नीचे कारोबार कर रहा है।

कार्वी कॉमट्रेड की निवेश सलाह 

सोना एमसीएक्स (जून वायदा) : खरीदें - 30050, स्टॉपलॉस - 29900 और लक्ष्य - 30300

कॉपर एमसीएक्स (जून वायदा) : बेचें - 312.5, स्टॉपलॉस - 316 और लक्ष्य - 307

कच्चा तेल एमसीएक्स (मई वायदा) : खरीदें - 3120, स्टॉपलॉस - 3070 और लक्ष्य - 3200

पैराडाइम कमोडिटीज की निवेश सलाह 

सोयाबीन एनसीडीईएक्स (जुलाई वायदा) : बेचें - 4125, स्टॉपलॉस - 4211 और लक्ष्य - 4025

जीरा एनसीडीईएक्स (जून वायदा) : बेचें - 17200, स्टॉपलॉस - 17600 और लक्ष्य - 16500

Friday, 13 May 2016

कच्चे तेल में जोरदार तेजी आई सोने में हो सकती है गिरावट जाने

सोने की शुरुआती तेजी खत्म हो गई है। अब इसमें गिरावट पर कारोबार हो रहा है। दरअसल अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का दाम 0.5 फीसदी गिर गया है। इसी का असर घरेलू बाजार पर पड़ा है। अमेरिका में आज बेरोजगारी के साप्ताहिक आंकड़े आने वाले है, जिस पर बाजार की नजर है। फिलहाल एमसीएक्स पर सोना 0.5 फीसदी की गिरावट के साथ 29790 रुपये पर कारोबार कर रहा है। चांदी में भी गिरावट आई है। एमसीएक्स पर चांदी 0.2 फीसदी टूटकर 41200 रुपये के नीचे आ गई है।

कमोडिटी बाजार में केसा रहेगा निवेश जाने यहाँ .... www.marketmagnify.com

वहीं कच्चे तेल में जोरदार तेजी आई है। इसका दाम करीब 1 फीसदी चढ़ गया है। दरअसल कल ईआईए की रिपोर्ट आई थी, जिसमें कहा गया है कि अमेरिका में क्रूड का भंडार करीब 34 लाख बैरल गिर गया है। फिलहाल एमसीएक्स पर कच्चा तेल 1 फीसदी की तेजी के साथ 3100 रुपये के ऊपर पहुंच गया है। नैचुरल गैस में सुस्ती नजर आ रही है। एमसीएक्स पर नैचुरल गैस 0.1 फीसदी गिरकर 144.5 रुपये पर कारोबार कर रहा है।

उत्तर भारत की मंडियों में गेहूं की डिमांड घट गई है। राजस्थान और मध्यप्रदेश से दक्षिण भारत के लिए गेहूं की मांग काफी कमजोर पड़ गई है। ज्यादातर दक्षिण की मिलें विदेश से गेहं इंपोर्ट कर रही हैं। आज कोटा में मिल क्वालिटी गेहूं 1550 रुपये औार लोकवन का दाम 1750 क्विंटल है। हालांकि वायदा में बढ़त पर कारोबार हो रहा है।


इंडिया इंफोलाइन की निवेश सलाह 

नैचुरल गैस एमसीएक्स (मई वायदा) : बेचें - 146, स्टॉपलॉस - 149.8 और लक्ष्य - 139

चांदी एमसीएक्स (जुलाई वायदा) : बेचें - 41300, स्टॉपलॉस - 41700 और लक्ष्य - 40700

इंडियानिवेश कमोडिटीज की निवेश सलाह 

ग्वार सीड एनसीडीईएक्स (जून वायदा) : खरीदें - 3190, स्टॉपलॉस - 3160 और लक्ष्य - 3250

सरसों एनसीडीईएक्स (जून वायदा) : बेचें - 4420, स्टॉपलॉस - 4455 और लक्ष्य - 4350

Thursday, 12 May 2016

अगर चाहते है अच्छे रिटर्न तो इस सलाह पर करें अमल

सेंट्रम वेल्थ मैनेजमेंट के ईडी एंड सीआईओ कुंज बंसल का कहना है कि बाजार में मॉरिशस टैक्स संधि के चलते कल काफी मंदी देखने को मिली थी और ऐसा लग रहा था कि बाजार एक बार फिर नीचे आएगा। लेकिन भारतीय बाजारों के लिए लंबी अवधि में टैक्स संधि काफी पॉजिटिव है। बाजार में अब भी काफी सकारात्मक संकेत हैं। जब से सामान्य मॉनसून का अनुमान जताया गया है तब से बाजार में अच्छा सुधार देखने को मिला है।

शेयर मार्केट में बेहतर निवेश सम्बन्धी जानकरी के लिए हमारी वेबसाइट पे विजिट करे ... www.marketmagnify.com

उन्होंने कहा कि सामान्य मॉनसून और तिमाही नतीजों से बाजार में अच्छी तेजी देखने को मिलेगी। कुंज बंसल बाजार पर पॉजिटिव हैं और उनका कहना है कि बैंकरप्सी बिल पास होने से भी बाजार और बैंकों को फायदा होगा। हालांकि पीएसयू बैंकों में अभी तेजी आने में कुछ वक्त लग सकता है, लेकिन आगे प्राइवेट सेक्टर बैंक तेजी में रहेंगे।

बैंकिंग के अलावा एनबीएफसी सेक्टर भी अच्छा है और इसमें सुंदरम फाइनेंस का शेयर सबसे ज्यादा पसंद होगा। सुंदरम फाइनेंस के पिछले ट्रैक रिकॉर्ड को देखते हुए मध्यम से लंबी अवधि में इसमें अच्छा निवेश होगा। सुंदरम फाइनेंस के मार्च तिमाही के नतीजे अच्छे आने की उम्मीद है।

कुंज बंसल को मिडकैप में जागरण प्रकाशन का शेयर भी अच्छा लगता है। उनका कहना है कि जागरण प्रकाशन में ना केवल अखबार में एक्सपोजर मिलता है, बल्कि इनके रेडियो बिजनेस में भी एक्सपोजर मिलेगा। कंपनी का मार्जिन 25-26 फीसदी है और रिटर्न ऑन इक्विटी 30 फसदी है। मौजूदा भाव पर शेयर 12 टाइम के पीई रेश्यो पर मिल रहा है। अगर विज्ञापन रेवेन्यू में ग्रोथ देखने को मिलता है तो मध्यम से लंबी अवधि के लिहाज से शेयर में खरीदारी की जा सकती है।

उनके मुताबिक टाटा एलेक्सी के नतीजे अच्छे रहे हैं। कंपनी के मार्जिन 23-24 फीसदी और रिटर्न ऑन इक्विटी 40 फीसदी से ऊपर का है। मध्यम से लंबी अवधि में शेयर में खरीदारी का अच्छा मौका हो सकता है।

Wednesday, 11 May 2016

आज कमोडिटी बाजार में कौन सा निवेश है सही जाने

अमेरिका में कच्चे तेल का रिकॉर्ड भंडार से इसकी कीमतों पर दबाव बढ़ गया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमतें करीब 0.5 फीसदी गिर गई हैं। दरअसल कल एपीआई की इन्वेंट्री रिपोर्ट आई थी, जिसमें कहा गया है कि अमेरिका में क्रूड का भंडार बढ़कर 54.31 करोड़ बैरल के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं कनाडा में ऑयल फिल्ड के पास लगी आग पर अब काबू पा लिया गया है और जल्द ही उस इलाके से क्रूड की सप्लाई शुरू होने की उम्मीद है। इस बीच अरब के तेल उत्पादक देशों के बीच फिर से प्राइस वॉर छिड़ गई है। 

कमोडिटी मार्केट के मुफ्त सुझाव जाने यहाँ ....www.marketmagnify.com

वहीं सोने का दाम पिछले दो हफ्ते के निचले स्तर पर बना हुआ है और चीन की चिंता से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कॉपर में भी पिछले एक महीने के निचले स्तर पर कारोबार हो रहा है। हालांकि आज डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी आई है।

वहीं स्काईमेट ने मॉनसून को 29 मई तक केरल पहुंचने का अनुमान जारी कर दिया है। जो सामान्य आगमन से करीब दो दिन पहले है। एग्री कमोडिटी में सोयाबीन ने जबरदस्त तेजी दिखाई है, जबकि सोया तेल भी अच्छी बढ़त दिखा रहा है। एनसीडीईएक्स पर सोयाबीन 2 फीसदी की मजबूती के साथ 3930 रुपये पर कारोबार कर रहा है। वहीं एनसीडीईएक्स पर सोया तेल करीब 1 फीसदी बढ़कर 655 रुपये के ऊपर कारोबार कर रहा है। 

रेलिगेयर कमोडिटीज की निवेश सलाह 

  • सोना एमसीएक्स (जून वायदा) : खरीदें - 29780, स्टॉपलॉस - 29680 और लक्ष्य - 29950 
  • कच्चा तेल एमसीएक्स (मई वायदा) : बेचें - 2970, स्टॉपलॉस - 3025 और लक्ष्य - 2890 
  • लेड एमसीएक्स (मई वायदा) : खरीदें - 117, स्टॉपलॉस - 116 और लक्ष्य - 118.8 

निर्मल बंग कमोडिटीज की निवेश सलाह 

  • सोयाबीन एनसीडीईएक्स : खरीदें - 3860, स्टॉपलॉस - 3810 और लक्ष्य - 3960 
  • सोया तेल एनसीडीईएक्स : खरीदें - 640, स्टॉपलॉस - 630 और लक्ष्य - 655

Tuesday, 10 May 2016

जानिए किन किन हालातों में आप अपना पीएफ निकाल सकते है ये है सरकार की नियम व शर्ते

आप दो महीने या उससे अधिक समय के लिए बेरोजगार हैं तो अपने प्रॉविडेंट फंड (पीएफ) यानी कर्मचारी भविष्य निधि से पूरी रकम निकाल सकते हैं। दूसरी बात, रोजगार में रहते हुए भी आप पीएफ की रकम निकाल सकते हैं लेकिन कुछ शर्तों और नियमों के साथ.

शेयर मार्केट में निवेश एवं मार्केट के उतार चढ़ाव की ताजा जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये और सही जानकारी और सुझाव पाए... www.marketmagnify.com

क्या हैं ये शर्तें और नियम व किन हालातों में निकाल सकते हैं आप अपने पीएफ की रकम, आइए मोटा-मोटी तौर पर जानें :

मकान बनाना है या खरीदना है तो... 
एम्पलॉयीज प्रॉविडेंट फंड ऑर्गनाइजेशन (EPFO) के संबंधित नियमों के मुताबिक, अगर आप मकान बनाना चाहते हैं या फिर खरीदना चाहते हैं तब अपने पीएफ में से एकबारगी पैसा निकाला जा सकता है। इसके पीछे शर्त यह है किआपको नौकरी करते हुए कम से कम पांच साल का समय हो चुका हो। ध्यान रहे यह रकम आपके 36 महीने के कार्यकाल की बेसिक सैलरी और डीए (यदि हो तो) के बराबर या फिर नियोक्ता और कर्मचारी के कुल कंट्रीब्यूशन (ब्याज समेत), इनमें से जो भी न्यूनतम हो, के बराबर हो सकती है।

प्लॉट खरीदना हो तो... 
अगर एंप्लॉयी को अपना प्लॉट खरीदना है तब भी वह पीएफ की रकम में से पैसा निकाल सकता है। इस पर भी शर्त है कि नौकरी करते हुए व्यक्ति को कम से कम पांच साल हो चुके हों। यह रकम कर्मी की 24 महीने की बेसिक सैलरी और डीए (यदि हो तो) या फिर नियोक्ता और कर्मचारी के कुल कंट्रीब्यूशन जिसमें ब्याज भी शामिल हो या फिर जितने में प्लॉट खरीदा जा रहा है, इनमें से जो भी न्यूनतम हो, उतनी रकम निकाली जा सकती है।

घर की रिपेयरिंग करवानी है तो... 
यदि आपको घर में रिपेयरिंग करवानी है तब भी आप पीएफ से पैसा विदड्रॉ कर सकते हैं। मगर, आपको पांच साल काम करते हुए हो चुके हों यानी पीएफ अकाउंट पांच साल से हो। विदड्रॉल की रकम आपके डीए समेत 12 महीने की बेसिक सैलरी के बराबर या फिर कर्मी के पीएफ में कंट्रीब्यूशन (ब्याज समेत) की रकम या फिर रिपेयरिंग पर आने वाले कुल खर्चे के बराबर हो सकता है, इनमें से जो भी न्यूनतम हो।

आपने होम लोन लिया हुआ है तो.... 
अगर आपने होम लोन लिया हुआ है, तब आप अपनी नौकरी के 10 साल पूरे होने के बाद पीएफ की रकम निकाल सकते हैं। पैसा निकालने संबंधी सीमा और शर्त वही है जोकि मकान के कंस्ट्रक्शन और परचेज के लिए है।

रोग-बीमारी की स्थिति में मेडिकल ट्रीटमेंट संबंधी.... 
अपने पीएफ अकाउंट से पैसा आप तब भी निकाल सकते हैं जब आप परिवार के किसी सदस्य की बीमारी का इलाज करवाने की जरूरत आन पड़ी हो। पर, केवल उसी बीमारी के लिए जिसमें एक महीने या उससे अधिक के लिए हॉस्पिटलाइजेशन करवाया गया हो या करवाना हो। अच्छी बात यह है कि मेडिकल ट्रीटमेंट के मामले में पीएफ की रकम निकालने संबंधी टेन्योर (कितने समय से पीएफ अकाउंट होल्डर हैं) संबंधी शर्त लागू नहीं होती है।

लेकिन, यह भी ध्यान दें कि... 
यदि आप जॉइंट प्रॉपर्टी में से शेयर खरीदना चाहते हैं या फिर किसी ऐसी साइट पर मकान खड़ा करना चाहते हैं जो कि संयुक्त रूप से मालिकाना हक वाली हो तो आप पीएफ से पैसा निकालने के योग्य नहीं माने जाएंगे सिवाए इस आधार के कि वह संयुक्त मालिकाना हक आपकी बीवी या पति का हो।

पैसा निकालने की प्रक्रिया यह है..
यदि आप उपरोक्त किसी भी कारण से पीएफ अकाउंट में से पैसा निकालना चाहते हैं तो आपको फॉर्म 31 भरकर देना होगा और इसके साथ डिक्लेयरेशन भी देना होगा। जैसे यदि आपको होम लोन की आउटस्टैंडिंग के लिए पैसा निकालना है तो संबंधित बैंक का प्रूफ देना होगा।

Today's Gold Report in Commodity Market Against Dollar

Gold slipped to a 1-1/2-week low on Tuesday, expanding steep misfortunes from the earlier session as the dollar stayed solid, checking hunger for the valuable metal.

Commodity daily alert only at !!! www.marketmagnify.com

FUNDAMENTALS
Spot gold was off 0.3 percent at USD 1,260.31 an ounce by 0037 GMT, in the wake of hitting an early low of USD 1,259.51, its weakest since April 28. Bullion fell 1.9 percent on Monday, its most honed single-day drop since March 23. 

MARKET NEWS 
Asian shares got off to a powerless begin, compelled by weaker raw petroleum costs, however Japanese shares got a tailwind as the dollar stood tall against the yen. 

The dollar floated to its most noteworthy in about two weeks against real monetary forms while the yen nursed broad wide misfortunes subsequent to demonstrating its greatest one-day fall in over two weeks on Monday.

Monday, 9 May 2016

5 Reasons Why Gold Buying On Akshaya Tritiya

In the days drawing closer Akshaya Tritiya in 2016, individuals will again equip towards sparing their profit to purchase valuable ownership or make speculations. Individuals like to purchase gold since it is a valuable metal symbolizing Goddess Lakshmi, who brings riches and success. Lately, this brilliant metal has additionally obtained a decent resale esteem. So purchasing any measure of gold is currently seen as a decent venture for future, despite ladies' unique enjoying for gold adornments.

Get Best Advice Here!!! www.marketmagnify.com

Anything accomplished on this day is said to act naturally recharging, along these lines purchasing gold gives individuals the certification that their budgetary condition will enhance, empowering them to secure more gold.

7 purposes behind observing Akshaya Tritiya-: 
First-: A splendidly sparkling Sun speak to an immaculate soul and a magnified Moon imply imaginative powers that would consolidate to introduce Satya yuga.

Second-: "Akshaya" implies endless or everlasting. At the point when Pandavas where estranged abroad they got an "Akshaya Tritiya" dish from a sage. That bowl yielded boundless nourishment and never turned vacant. In this way, products of this day are self-renewing.

Third-: Puranas relate that Lord Ganesha started composing the colossal epic Mahabharata under the direction of holy person Ved Vyasa. Waterway Ganga plunged on earth plane on this day. Master Kubera got to be treasurer of the Gods on this day. Along these lines, this is for sure a day that is exceptionally promising.

Fourth-: Once Sudama, a youth companion of Krishna came to him looking for monetary help. Sudama was exceptionally poor and could just a modest bunch of beaten rice for Krishna. Krishna savored it and treated his companion and visitor to his castle with warmth. Sudama was humiliated to request help and returned home with next to nothing. Yet, on his arrival he observed that his old hovel had transformed into a castle. From that day onwards, the day of Akshaya Tritiya is set apart for material additions.

Fifth-: Taking after the prevalent view Akshaya Tritiya 2016 will likewise be a day of reckoning for new pursuits, activities, marriage, home-coming and any real occasion of life.

Friday, 6 May 2016

Free Mcx Commodity Levels by MarketMagnify

Spot gold prices are trading lower today by 0.1 percent at $1278/oz while MCX gold prices are trading higher by 0.51 percent at Rs.30009 per 10 gms.




LME copper prices are trading lower by 1 percent as revival in DX on optimism the U.S. economy could bounce back after nearly stalling in the first quarter exerted pressure. MCX copper is trading lower by 1.4 percent at Rs.320.75 per kg.

Oil prices are trading higher by 2.3 percent at $44.79 per barrel, while MCX oil prices are trading higher by 3 percent at Rs.2986 per barrel.

Thursday, 5 May 2016

Crude Oil Price Jump Because of Canadian Wildfire

Oil costs hopped by more than one percent in early trading on Thursday as an enormous out of control fire in Canada disturbed its oil sands creation, while heightening battling in Libya debilitated the North African country's yield.

Commodity daily alert only at !!! www.marketmagnify.com

Universal benchmark Brent unrefined prospects were exchanging at USD 45.31 for each barrel at 0031 GMT, up 69 pennies or 1.6 percent from their last close. US West Texas Intermediate (WTI) rough fates rose 75 pennies, or 1.7 percent, to USD44.53. Merchants said that WTI costs were driven up by an uncontrolled rapidly spreading fire in Canada that disturbed oil generation in the region of Alberta. 

An enormous rapidly spreading fire has constrained the clearing of every one of the 88,000 individuals in the western Canadian oil city of Fort McMurray and copied down 1,600 structures, and can possibly decimate a great part of the town, powers said on Wednesday.

Wednesday, 4 May 2016

5 Golden Way For Sucessful Investment in Market

The bait of huge cash has constantly tossed financial specialists into the lap of stock and commodity market. In any case, profit in values is difficult. It requires many of persistence and order, as well as a lot of exploration and a sound comprehension of the business sector, among others.

Albeit no beyond any doubt shot equation has yet been found for accomplishment in market, here are some brilliant tenets which, if took after wisely, may build your odds of getting a decent return:

Get Best Investment Plans at !!! www.marketmagnify.com

Avert the group attitude-: 
The run of the mill purchaser's choice is normally intensely affected by the activities of his colleagues, neighbors or relatives. In this way, if everyone around is putting resources into a specific stock, the propensity for potential financial specialists is to do likewise. Be that as it may, this methodology will undoubtedly blow back over the long haul.


Never try to moment of Market-:
One thing that even Warren Buffett doesn't do is to attempt to time money markets, despite the fact that he has an exceptionally solid perspective on the value levels suitable to individual shares. A dominant part of Investment, in any case, does the polar opposite, something that monetary organizers have dependably been cautioning them to stay away from, and therefore lose their well deserved cash simultaneously.

Follow trained investment viewpoint-: 
Generally it has been seen that even incredible bull runs have indicated episodes of frenzy minutes. The unpredictability saw in the business sectors has unavoidably profited regardless of the immense bull runs.

Be that as it may, the speculators who put in cash deliberately, in the right shares and clutched their ventures quietly have been seen creating remarkable returns. Thus, it is reasonable to have tolerance and take after a taught speculation approach other than remembering a long haul wide picture.

Have reasonable desires-:
There's nothing amiss with seeking after the "best" from your speculations, yet you could set out toward inconvenience if your monetary objectives depend on impossible presumptions. For example, bunches of stocks have created more than 50 for each penny returns amid the colossal bull keep running of late years.

Observation Thoroughly-:
We are living in a worldwide town. Any imperative occasion happening in any part of the world affects our money related markets. Henceforth we have to continually screen our portfolio and continue influencing the fancied changes in it.

Tuesday, 3 May 2016

Gold Enduring Almost 15-Month Top on Milder Dollar, Store Inflows

Gold nursed fed little overnight misfortunes on Tuesday, however the metal wasn't too a long way from a 15-month high on dollar shortcoming and as resources of the greatest bullion store rose to their most noteworthy in more than two years.

Get Best Advice Here!!! www.marketmagnify.com

FUNDAMENTALS
Spot gold was minimal changed at USD 1,291.45 an ounce by 0050 GMT. The metal rose to its most astounding since January 2015 of USD 1,303.60 yet finished the day lower by 0.2 percent.

Gold has risen pointedly as of late after the dollar drooped on the Federal Reserve's mindful position towards higher US rates and as the yen took off after the Bank of Japan stood pat on arrangement a week ago.

Among different valuable metals, silver was additionally close to a 15-month high of USD 18.006 came to on Monday. It edged up 0.3 percent to USD 17.577 at an opportune time Tuesday.

Platinum was firm at USD 1,076 an ounce in the wake of moving to a 10-month high of USD 1,085.40 on Monday. Palladium steadied at USD 617.47.


Monday, 2 May 2016

Commodity Market Back to Jump With 9% Hits

With Sebi responsible for the commodity market, financial specialists are recovering their certainty as the turnover of ware trades grew 9 percent to Rs 67 lakh crore in 2015-16. 

Get Best Advice Here!!! www.marketmagnify.com

This is being seen as one of the greatest years for the section as of late. Ware fates turnover on the two noteworthy bourses - NCDEX and MCX - remained at about Rs 60.9 lakh crore in 2014-15, most recent information appeared.

In volume terms, the quantity of such contracts exchanged rose 56.5 percent to 27.5 crore in 2015-16, from around 17.6 crore in the year-back period. 

As indicated by specialists, the development in ware exchanging is credited to get in speculator certainty, with the Securities and Exchange Board of India (Sebi) depended with the employment of product business sector.